निर्वाचन साक्षरता क्लब का गठन कैसे करें ː Nirvachan Saksharta Club

Nirvachan Saksharta Club का प्रमुख उद्देश्य स्कूलों, कालेज एवं अन्य शैक्षणिक संस्थानों से भारतीय मतदाताओं को निर्वाचन के प्रति जागरुक करना है। आगामी लोक सभा चुनाव 2024 के लिए शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार एवं भारत निर्वाचन आयोग के मध्य हस्ताक्षरित परस्पर सहमति पत्र (MoU) के आधार पर मतदाता जागरूकता को बढ़ावा देने का लिए प्रत्येक विद्यालय, कॉलेज एवं अन्य संस्थान में निर्वाचन साक्षरता क्लब (Nirvachan Saksharta Club) स्थापित कर विद्यार्थियों को मतदाता शिक्षा प्रदान करने हेतु विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जाएंगी ।

निर्वाचन साक्षरता क्लब Electoral Literacy Club

Nirvachan Saksharta Club (ELC) एक ऐसा मंच है जिसके रोचक गतिविधियों और व्यावहारिक गतिविधि के माध्यम से स्कूली छात्रों को उनके चुनावी अधिकारों के प्रति सचेत करने और पंजीकरण और मतदान की चुनावी प्रक्रिया से परिचित कराया जाना है। Nirvachan Saksharta Club स्कूलों, कॉलेजों और ग्रामीण समुदायों में भी स्थापित किया जाना हैं। Nirvachan Saksharta Club में, आनन्ददायी गतिविधियां की जाती है। इसकी गतिविधियों और खेलों से छात्रों को सोचने और प्रश्न पूछने के लिए प्रोत्साहित करने और प्रेरित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।, भारत के चुनाव आयोग का प्रमुख उद्देश्य nirvachan Saksharta Club (ELC) के माध्यम से युवाऔर भावी मतदाताओं के मध्य चुनावी भागीदारी की संस्कृति को मजबूत करना है।

Nirvachan Saksharta Club (ELC) के प्रकार

  1. School Level ELC – School Level ELC भावी अर्थात नए मतदाताओं के लिए स्थापित किए गए हैं। कक्षा 9वीं से 12वीं तक(14-17 वर्ष) के विद्यार्थी इसके सदस्य बनते हैं।
  2. College Level ELC – College Level ELC ऐसे नए मतदाताओं के लिए स्थापित किए गए हैं जिनकी आयु 18-21 वर्ष के मध्य है।
  3. Nirvachan Pathshala – Nirvachan Pathshala मतदान केंद्रवार स्थापित की गई हैं और स्कूल न जाने वाले व्यक्तियों को शिक्षित करने के लिए BLO को Chunav Pathshala का प्रभारी बनाया जाता है.
  4. Voter Awareness Forum – सरकार/निजी विभाग/संगठन के कर्मचारियों के मध्य मतदाता जागरूकता फैलाने के लिए Voter Awareness Forum (मतदाता जागरूकता मंच) VAF की अवधारणा विकसित कर जागरूकता बढ़ायी जाती है।

ELC और VAF की स्थापना में जिला चुनाव अधिकारी (DEO) और निर्वाचक नामावली अधिकारी (ERO) के साथ बूथ लेवल अधिकारी BLO की भूमिका महत्वपूर्ण है। ELC में रोचक और विचारोत्तेजक, अधिकतर कक्षा आधारित गतिविधियों और खेलों का हिस्सा होंगे। लगभग 25 ऐसी गतिविधियाँ और 6 ऐसे खेल हैं जिन्हें विशिष्ट शिक्षा प्रदान करने के लिए सावधानीपूर्वक डिज़ाइन किया गया है जो उन्हें ’सशक्त एवं जागरूक मतदाता’ बनने में मदद करेगा।

Nirvachan Saksharta Club (ELC/VAF) के लिए आवेदन कैसे करें

किसी भी स्कूल, कॉलेज, संगठन अथवा विभाग में यदि ELC और VAF का गठन करना हो तो निर्वाचन आयोग की साइट पर जाकर अधिकृत स्थान पर अपने संस्थान का नाम डालकर एवं किसी मोबाईल नंबर के माध्यम से अपना अकाउंट बनाकर लॉगिन किया जा सकता है। लिंक पर क्लिक करें :

निर्वाचन साक्षरता क्लब गठन हेतु क्लिक करें

निर्वाचन साक्षरता क्लब गतिविधियां

  1. Mock Poll माक पोल
  2. EVM, VVPAT का प्रदर्शन
  3. ECI मोबाईल एप के बारे में जानकारी क्विज़
  4. निबंध प्रतियोगिता
  5. रंगोली प्रतियोगिता
  6. नुक्कड़ नाटक
  7. वाद-विवाद प्रतियोगिता

Resources for Activities by ELC (Chunavi Saksharta Club)

Radio Jingles :-

Publications :

स्कूल के बच्चों के लिए मनोरंजक कॉमिक्स जिसमें निर्वाचन से संबंधित कहानियाँ शामिल हैं ।

Chunavi Saksharta Club
Chunavi Saksharta Club

Voter’s Pledge :-

25 जनवरी मतदाता दिवस को एवं अन्य sveep के कार्यक्रम के दौरान मतदाताओं को शपथ दिलवायी जाती है कि आगामी निर्वाचन में वह सभी मतदान करेंगे । इस आशय का शपथ प्रस्तुत है। कोई यदि Online शपथ लेना चाहता है तो उसका लिंक नीचे दिया जा रहा है :

 मतदाता शपथ Link

Nirvachan Saksharta Club

SVEEP

SVEEP भारतीय चुनाव आयोग का प्रमुख कार्यक्रम है जो भारत में मतदाता शिक्षा, मतदाता जागरूकता और मतदाता साक्षरता को बढ़ावा देने के लिए है। यह एक बहु-आयामी कार्यक्रम है जो विभिन्न तरीकों और मीडिया के माध्यम से नागरिकों, वर्तमान मतदाताओं और भावी मतदाताओं को चुनावी प्रक्रिया के बारे में शिक्षित करने के लिए है, ताकि उनकी जागरूकता बढ़े और उनकी सुस्त प्रतिभागिता को प्रोत्साहित किया जा सके। SVEEP को राज्य की सामाजिक-आर्थिक, सांस्कृतिक और Statistical Profile एवं पिछले चुनावों में चुनावी भागीदारी के इतिहास के आधार पर तैयार किया गया है । आयोग विभिन्न मीडिया प्लेटफ़ॉर्म के माध्यम से कई मतदाता जागरूकता सामग्रियां बनाता है और उन्हें प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, सोशल मीडिया आदि के माध्यम से प्रसारित करता है।

For More Details: Kindly Visit : स्कूलों में होगा चुनावी साक्षरता क्लब का गठन

ɑnother ɑrticle ː- Madhya Pradesh Vidhan Sabha Chunav : अपना वोट कैसे दें

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top